A letter to Prime Minister – प्रधान मंत्री जी को एक पत्र

Sorry sir! No toilets in Indian buses!
प्रधान मंत्री जी परनाम,

अनपढ हूँ. लिखना न आवे. बस समझ लेना. बस का सफ़र. आम जनता कष्ट में. सफर के दौरान हाज़त. लोग क्या करें. ड्राइवर-क्लीनर भैंस. बीन क्या बजाएँ. वे वहीं रुकते जहाँ “नाश्ता-पानी” फ़्री मिले. बूढ़ों, महिलाओं, बच्चों का बुरा हाल. हाज़त रोके गुर्दे फ़ेल. सफ़र के लोग आपके भरोसे. बाहर की बस में जनसुविधाएँ. भारत में क्यों नहीं? मंत्री सो रहे.

 
कुछ बसों में सुविधा होती. पता नहीं किन हटवाए. सरकारी बस में सुविधाएँ देने का विरोध करे. जो ऐसा करे उसको पकड़ें. उसके काम को देश पर हमला जानें.

थोड़ा लिखा, अधिक समझना जी. जनता जाग रही.  

धनवाद.

—————————————————————————————————————
5 आवश्यक सुझाव
Prime Minister
Health Minister, Transport Minister
President of India, Human Rights Commission, Women Commission 

MEGHnet         

About meghnet

Born on January, 13, 1951. I love my community and country.
This entry was posted in रचनात्मक, Health Minister, Toilets in Indian buses, Transport Minister. Bookmark the permalink.

14 Responses to A letter to Prime Minister – प्रधान मंत्री जी को एक पत्र

  1. Jyoti Mishra says:

    If only such letters can any sense to those spineless ppl… the dire situation of rural areas in our country can improve !!

  2. Deepak Saini says:

    इस दर्द को वो ही समझ सकता है जो बस में सफर करता है
    आभार

  3. Vijai Mathur says:

    पहले प्रधानमंत्री जी दिल्ली से गोहाटी तक का सफर बस से तो करें फिर आदेश जारी करने की स्थिति मे होंगे।

  4. बहुत कठिन है डगर पनघट की।

  5. Bhushan says:

    जी हाँ, जो बस में सफ्फर करता है :))

  6. Bhushan says:

    ….और पंचकूला से दिल्ली दूर है.

  7. जिसके पैर न फटे बिबाई ..वो जाने क्या पीड़ पराई .

  8. G.N.SHAW says:

    सर जी — पहले वे लोग रेल को खस्ता कर ले बाद में देखेंगे बस को ! उनके लिए बस जो नहीं बनी !गिरे तो अमबस्टर कार ,चढ़े तो एयर इंडिया

  9. आज आपके ब्लॉग पर बहुत दिनों बाद आना हुआ अल्प कालीन व्यस्तता के चलते मैं चाह कर भी आपके आलेख नहीं पढ़ पा रहा हूँ …बहुत बढ़िया आलेख …!

  10. Jaggasingh says:

    सेवामे श्रीमान

    पीरीय मत्रीं जी आप से नीवेदन है की हमँ (93)गरीब परीवारो की भुमीं (जमीन) पुजीं पतीयो ने हङप ली है हम अती गरीब होने के कारण हम केस नही लङ सकते हमारी मदद करे आपकी अती कृपा होगी राजय rajasthan तहसील tibbi गाव meharawala mobail no:9610296065

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s