Dara Singh – Pride of Punjab – दारा सिंह – पंजाब का गौरव

इन दिनों भारत के प्रसिद्ध रुस्तम-ए-हिंद, रुस्तम-ए-ज़मां (World Champion) और अभिनेता दारा सिंह की तबीयत खराब है. इनके जीवन के बारे में अधिक नहीं जानता लेकिन जितना इन्हें सामने या फिल्मों में देखा है उतना लिख रहा हूँ.
छह-सात वर्ष की आयु में अमृतसर के डैम गंज के सामने वाले किले में इनकी फ़्री स्टाइल कुश्ती देखी थी. बहुत समय बाद जाना कि वह WWF/WWE जैसी कुश्ती लड़ते रहे हैं. गर्वित हूँ कि भारत में वैसी कुश्ती लड़ने वाले वे पहले पहलवान हैं. 

टोहाना के टीन से बने थिएटर में दारा सिंह की दो फिल्में किंगकांग और फ़ौलाद सन् 1963 के आसपास देखी थीं (बैठने के लिए चौकी घर से ले जानी होती थी). फौलाद फिल्म के गीत और दारा के डौले-शौले प्रभावित करते थे. इसका संगीत अनु मलिक के पिता सरदार मलिक ने दिया था. दारा का फौलादी एक्शन देखने वाला था.

दारा को सामने देखने का मौका सन् 1979 में मिला. पंजाब सिविल सैक्रेटेरिएट, चंडीगढ़ के बाहर एक कार की विंड स्क्रीन के बड़े हिस्से में इनका भारी भरकम चेहरा छाया हुआ था. इनकी कद-काठी के लिए कार छोटी पड़ रही थी. दोस्त ने बताया कि अपनी फिल्म के मनोरंजन टैक्स के मामले में आए हैं.
फिर दारा को पंजाब यूनीवर्सिटी के डिपार्टमेंट ऑफ़ इंडियन थिएटर के एक कार्यक्रम में एक दर्शक की हैसियत में देखा. इनसे हाथ मिलाने का मौका भी मिला. डिपार्टमेंट की हेड अमाल अल्लाना (Amal Allana) दर्शकों में बैठी थी और दारा उनके साथ वाली सीट पर आ कर बड़ी शालीनता से बैठ गए. लेकिन इनके डील-डौल से भयभीत अम्माल वहाँ से उठ गईं. मैंने अमाल को बताया कि वह फिल्म एक्टर दारा सिंह हैं परंतु वे उनके बारे में नहीं जानती थीं और न ही उनका डर दूर हुआ.
दारा ने टीवी सीरियल रामायण में हनुमान की भूमिका की. इस भूमिका के निर्देशक का मैं प्रशंसक नहीं क्योंकि इसमें दारा से बहुत हल्की कामेडी भी कराई गई थी और आवाज़ की भी डबिंग की गई थी. राजकपूर की फिल्म मेरा नाम जोकर में शेरों के ट्रेनर की भूमिका एक अच्छा रोल था लेकिन कुछ डॉयलॉग्ज़ में पंजाबी उच्चारण आ गया हिंदुस्तानी तो तुम समजते हो, क्या मेरे शेरों की प्हाषा बी समजते हो?”

दारा की अन्य जितनी भी फिल्में देखी हैं उनमें से महाभारत के कथानक पर आधारित फिल्म बलराम-श्रीकृष्ण को मैं उनकी सर्वश्रेष्ठ हिंदी फिल्म मानता हूँ. कृष्ण की भूमिका में उड़िया अभिनेता साहू मोदक थे. उनके समक्ष बलराम की भूमिका में दारा सिंह का अभिनय उतना ही सशक्त था.
सेहत की ऐसी नाज़ुक हालत में दारा पर क्या बीत रही है मैं नहीं जानता. बस इतना चाहता हूँ कि दारा को कोई तकलीफ़ न हो.

और आज 12-07-2012 को ख़बर आ गई. 
Advertisements

About meghnet

Born on January, 13, 1951. I love my community and country.
This entry was posted in दारा सिंह, रचनात्मक. Bookmark the permalink.

6 Responses to Dara Singh – Pride of Punjab – दारा सिंह – पंजाब का गौरव

  1. सदा says:

    (रुस्तम-ए-हिंद)के लिए हमारी अनंत शुभकामनाएं

  2. ' दारा सिंह ' वो उदाहरण हैं जो अक्सर हम अपनी बातों को वजनदार बनाने के लिए गर्व से लेते हैं.. संज्ञा पढ़ाने में भी लेते हैं और उनके बारे में जो जानकारियाँ है वो भी दे देते हैं..कि कैसे उन्होंने ट्रक रोका था या विमान खींचा था.. उनके स्वास्थ्य के लिए बस.. मौन प्रार्थना..

  3. मेने हनुमान की भूमिका के लिए दारा सिंह से बेहतर कोई हो ही नहीं देखा !श्री दारा सिंह जी की बेहतर स्वास्थ की दुआ करता हु !

  4. हम उनके शीघ्र स्वास्थ्य-लाभ की मंगलकामना करते हैं।

  5. मैंने कहीं पढा था कि दारासिंह के बोलने में अक्सर उच्चारण बदला मिलता था, है। भारतमाता को पारतमाता।

  6. Pallavi saxena ✆ to me

    हमें भी उनके शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की मंगलकामनाएँ करते हैं आपके दावरा लिखी गई वो चौकी वाली बात पर मुझे भी एक बात याद आयी :)जब हम छोटे थे तब हमारे महौले में गणेश जी की झांकी लगा करती थी और पूजन के बाद मेरे ही घर की दीवार जो की सफ़ेद हुआ करती थी उस पर झाँकी के सदस्य प्रोजेक्टर से फिल्म दिखाया करते थे तब हम लोग भी अपनी-अपनी कुर्सियाँ घर से ही ले जाते थे और बहार बैठकर फिल्म देखते थे बड़ा मज़ा आता था अंकल… 🙂 दोस्तों का साथ और गर्मागर्म मूँगफली के साथ फिल्म का मज़ा वो भी खुली सड़क पर … आह !!! वो भी क्या दिन थे….अब तो बेचारे बच्चों को परीक्षाओं से ही फुर्सत नहीं मिलती कभी यह टेस्ट कभी वो टेस्ट बस यही लाइफ रह गयी है अपने यहाँ तो बच्चों की, थोड़े दिन में तो शायद झाँकी भी भूल जाएँ बच्चे की झाँकी क्या होती है 🙂

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s