Monthly Archives: August 2012

Arvind Kejriwal speaks complete truth but not final truth – अरविंद केजरीवाल ने बोला पूर्ण सत्य परंतु अंतिम नहीं

मैं अरविंद केजरीवाल या ‘इंडिया अगेंस्ट करप्शन’ का फैन कभी नहीं रहा. तथापि कभी किसी आंदोलन के दौरान कुछ बातें बहुत बढ़िया कही जाती हैं जिनमें आज का सत्य रहता है. 26-08-2012 को दिल्ली में अपने आंदोलन के दौरान अरविंद … Continue reading

Posted in Arvind Kejarival, Black Briton | 7 Comments

Dr. J.B.D. Castro – Long live Homoeopathy – डॉ. जे .बी.डी. कास्ट्रो – होमियोपैथी ज़िंदाबाद

1962-63 में स्वामी व्यास देव की पुस्तक ‘बहिरंग-योग’ पढ़ कर योग सीखना शुरू किया. हृदयगति को रोकने वाला ‘हृदय स्तंभन प्राणायाम’ भी सीखा. इसी लिए प्राणायाम करने के बाद अपनी हृदय की धड़कन जाँचने की आदत पड़ गई हाँलाकि यह … Continue reading

Posted in Homeopathy, J.B.D. Castro | 7 Comments

Reservation in services – नौकरियों में आरक्षण

आरक्षण के विरोध में – आरक्षण के हक़ में. डॉ. दिव्या श्रीवास्तव ने सरकारी नौकरियों में पदोन्नतियों में आरक्षण पर एक पोस्ट लिखी जिसे पढ़ कर कोई भी भावुक हो सकता था. मैं भी. उस पोस्ट को आप ऊपर दिए … Continue reading

Posted in Reservation | 51 Comments

ये दौर

लफ़्ज़ों की काट-छाँट में उन्वान1 मर गया अब क्या कहूँ चमकता चेहरा किधर गया अंधे शहर के लोग ख़फ़ा उससे हो गए दीवानावार वो लिए दीपक जिधर गया उस-उस तरफ़ के लोग भी सूखे से फट गए सियासी स्याह बादल … Continue reading

Posted in ग़ज़ल, रचनात्मक | 27 Comments

A mind borrowed – उधार का मन

जब से समाज बना है तभी से इंसान को दूसरों के बराबर की ऐश करने के लिए उधार लेने की आदत पड़ गई थी और समाज में एक ऐसा वर्ग भी था जो उधार लेने वालों को प्रशंसा की दृष्टि … Continue reading

Posted in desires, Mind | 17 Comments

Genius Kishore Kumar– प्रतिभावान किशोर कुमार

दो दिन पहले किशोर कुमार का जन्मदिन था. टीवी चैनल बता रहे थे कि किशोर कुमार जीनियस गायक था. थोड़ी देर के बाद यह भी बताया गया कि उसकी कंजूसी की आदत और रात भर पैसे गिनने की आदत के … Continue reading

Posted in रचनात्मक, Kishore Kumar | 4 Comments