Category Archives: लोरी

A lullaby – a prayer apprehensive – एक लोरी – एक दुआ आशंकित सी

हर पल का शायर – साहिर लुधियानवी फिल्मी सिचुएशनों पर साहिर लुधियानवी ने कमाल के गीत लिखे हैं. ‘मुझे जीने दो’ फिल्म में एक डाकू की पत्नी अपने बच्चे को लोरी सुना रही है और उसे जवान होने की दुआ … Continue reading

Posted in लोरी, साहिर लुधियानवी | 6 Comments